अभनपुर, राजिम और बिन्द्रानवागढ़ सीट में भाजपा कर सकती है फेरबदल, भाजपा संगठन कर रहा है गहन विचार मंथन – तीव कुमार सोनी

Spread the love

रायपुर संभाग की तीन विधानसभा सीट अभनपुर, राजिम और बिन्द्रानवागढ़ विधानसभा में प्रत्याशी बदले जाने पर विचार मंथन चल रहा है । विश्वस्त अंदरूनी सूत्रों से ज्ञात हुआ है की भाजपा द्वारा घोषित प्रत्याशियों का कार्यकर्ताओ द्वारा भारी विरोध के चलते पार्टी संगठन तीनो सीटो पर पुनर्विचार कर रहा है । पार्टी आकलन कर रहा है कि तीनों सीटो के प्रत्याशियों को बदले जाने पर क्या स्थिति निर्मित हो सकती है ।

अभनपुर – चंद्रशेखर साहू को भाजपा ने अभनपुर से टिकट दिया है । जिसका कार्यकर्ता भारी विरोध कर रहे है क्योकि पिछले चुनाव में चन्द्रशेखर साहू 8000 वोट से हार गए थे । क्षेत्र के बड़े नेता अशोक बजाज ने भी अस्पष्ट रूप से विरोध दर्ज कराया है । जिसके बाद से संगठन को इस सीट पर फिर से मंथन करना पड़ रहा है । सूत्रों से ज्ञात हुआ है कि चंद्रशेखर साहू ने अभनपुर, राजिम या महासमुंद से चुनाव लड़ने के इच्छुक थे । जिसमे से उन्हें अभनपुर से टिकट दिया गया है । यदि चंद्रशेखर साहू को अभनपुर से हटाया जाता है तो उन्हें राजिम से प्रत्याशी बनाये जाने की संभावना है ।

राजिम – राजिम में वर्तमान विधायक संतोष उपाध्याय को भाजपा ने टिकट दिया है । उपाध्याय का कोई खुल कर विरोध तो नही कर रहा है परंतु अभनपुर सीट में यदि परिवर्तन होता है तो चंद्रशेखर साहू राजिम से प्रत्याशी बनाये जा सकते है ।

बिन्द्रानवागढ़ – बिन्द्रानवागढ़ में बहुत भयंकर हलचल मचा हुआ है । क्योंकि यहां भाजपा ने वर्तमान विधायक और संसदीय सचिव गोवर्धन मांझी का टिकट काट कर डमरूधर पुजारी को प्रत्याशी बनाया है । गोवर्धन मांझी 30 हजार वोट से जीते थे उसके बाद भी टिकट काट दिए जाने पर मांझी के समर्थक भारी रोष व्यक्त कर मुख्यमंत्री से मुलाकात कर गोवर्धन मांझी को प्रत्याशी बनाने ज्ञापन सौपे है । मांझी के पक्ष में पूरे विधानसभा भर से पार्टी पदाधिकारी, मंडल अध्यक्ष व बड़ी संख्या में कार्यकर्ता खड़े हो गए है , गोवर्धन मांझी को प्रत्याशी बनाने की पुरजोर मांग कर रहे है । जिस कारण संगठन असमंजस में फंस गया है और बिन्द्रानवागढ़ में प्रत्याशी को बदलने विचार कर रही है ।

रमन ने क्या कहा – मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने साफ साफ कहा है कि जो सूची घोषित हो गई है उसमें कोई परिवर्तन नही किया जाएगा क्योंकि काफी गहन विचार विमर्श व कई सर्वे के बाद ही प्रत्याशियों के नामो की घोषणा की गई है । जो विरोध कर रहे है उन्हें मना लिया जाएगा ।

वैसे अनुमान लगाया जा रहा है कि भाजपा संगठन विरोध करने वालो को मना लेगी और किसी भी सीट में कोई परिवर्तन नही किया जायेगा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *