एल. पी. जी. परिवहन संघ ने शासन के सामने रखी मांगे….

How much price of LPG cylinders increase after the Modi government came  View price list from January 1 2014 to August 2021 - LPG सिलेंडर के दाम  मोदी सरकार के आने बाद

 

chhattisgarh.co 22 september 2021 : रायपुर। एल. पी. जी. परिवहन संघ छत्तीसगढ़ प्रदेश अपने स्थापना वर्ष से ही प्रदेश के गैस उपभोक्ताओं को परिवहन के माध्यम से अपनी सेवाएं देते आ रहा है दूरस्थ से दूरस्थ क्षेत्रों में 24×7, 365 दिन लगातार हमारे द्वारा सेवाएं दी जाती रही है कोरोना काल में जब सभी प्रकार की सेवाएं बंद थी और इस महामारी में अत्यावश्यक सेवाओं के रूप में प्रदेश की जनता को किसी भी प्रकार की असुविधा न हो तो हम सभी परिवहनकर्ताओं ने लगातार अपनी सेवाएं दी यदि मेडिकल सेवाएं जीवन रेखा बनी हुई थी तो वहीं LPG परिवहन सेवा किसी मायने में कम नहीं थी और इसका सारा श्रेय हम ऑपरेटर, चालक, इस सेवा कार्य में जुड़े सभी लोगों को देना चाहते है।

इस क्षेत्र में इंडियन ऑलय, एच.पी. भारत पेट्रोलियम एवं अन्य निजी कंपनिया अपनी सेवाएं दे रही है आज की प्रेस वार्ता इंडियन ऑयल कंपनी द्वारा इण्डेन गैस) के परिवहन और संबंधित समस्याओं को लेकर है कंपनी विसंगति पूर्ण दोषपूर्ण नीतियों के परिणाम स्वरूप 2016-2021 वर्ष (निविदा) हम परिवहनकर्ताओं के लिए मृत्युलोक बन गया है यह टेंडर 11.09.2021 को समाप्त हो गया है जिला प्रशासन के हस्तक्षेप से 22.09.2021 तक ही गाड़िया चलेगी बाद में पहिए थम जायेगें

1.

गैस परिवहन से जुड़े अनेको परिवार कंपनी की दोष पूर्ण नीतियों से रोड पर आ गए है कुछ से रोजगार बदल दिए रोजगार ने कुछ को बदल दिया।

2 कंपनी एवं परिवहनकर्ताओं के बीच करार कार्यक्षेत्र का पूरा छत्तीसगढ़ है पर कंपनी ने बाहर के राज्यों की गाड़ियों (म.प्र. झारखंड, उड़ीसा, महाराष्ट्र) को काम दिया और हमारी रोजी रोटी छीन ली।

3.

हर क्षेत्र में बढ़ रही महंगाई के मद्देनजर सभी के रेट बढ़े है पर कंपनी ने वर्तमान नवीन

टेंडर में निराश करते हुए पुराने टेंडर से दरें और घटा दी।

4 इंडियन ऑयल का क्षेत्रीय कार्यालय भोपाल में स्थित है छत्तीसगढ़ राज्य बनने के बाद एक

कार्यालय रायपुर में होनी चाहिए।

5. उज्जवला योजना में गैस परिवहन तो कंपनी ने करवा लिया पर हमें किसी भी प्रकार का पेमेंट नहीं किया गया इससे जुड़े हर वर्ग को लाभ हुआ पर हम परिवहनकर्ता को केवल केवल नुकसान हुआ।

6. छत्तीसगढ़ के परिवहनकर्ता के लिए बाजार सीमितकर दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *