गुस्साए किन्नर ने 3 महीने की बच्ची की हत्या की, पुलिस ने किया आरोपी को गिरफ़्तार…

 

 

 

9 july chhattisgarh.co मुंबई के कफ परेड इलाक़े में एक किन्नर 3 महीने के बच्ची के घर इस आस में गया था कि उसके परिवार वालों से उसे कुछ पैसे मिल जाएंगे. लेकिन जब उसे पैसे नहीं मिले तो उसने गुस्से में आकार बच्ची का अपहरण कर लिया और उसने इलाके में स्थित खाड़ी में डुबाकर बच्ची की हत्या कर दी. इस मामले में कफ़ परेड पुलिस ने कन्हैया उर्फ़ कन्नू चौगुले और उसके साथी सोनू काले को गिरफ़्तार किया है.

 

आपको बता दें की यह घटना कफ परेड के अंबेडकर नगर इलाक़े में हुई थी जहां सचिन चितकोटे अपनी मां, पिता, भाई और 3 महीने की बच्ची के साथ रहते हैं. बच्ची को लेकर घर में सभी लोग ख़ुश थे.

 

कन्नू ने मांगे पैसे और साड़ी 
इस घर में बच्चा हुआ है, इस बात की जानकारी मिलने के बाद कन्हैया उर्फ कन्नू चौघुले बच्चे के घर बधाई देने के लिए पहुंचा. उसने घर वालों से एक साड़ी, नारियल और 1100 रुपए मांगे. जिस पर बच्चे के पिता ने कहा की लॉकडाउन की वजह से घर में पैसों की तंगी है. बच्चे के पिता ने कन्नू से दीपावली में आकर ये सब ले जाने को कहा. इस बात को सुनते ही कन्नू गुस्सा हो गया और बड़बड़ाते हुए वहां से निकल गया.

 

बच्ची की दादी ने बताया की बरसात ना होने की वजह से गर्मी थी और बच्ची को गर्मी ना हो इस वजह से घर का दरवाज़ा खोल हुआ था और सभी लोग सो रहे थे. इसी बात का फ़ायदा उठाते हुए रात में कन्नू ने घर में घुसकर बच्ची का अपहरण कर लिया और बाद में कफ परेड इलाके में स्थित एक खाड़ी में उसे डुबाकर मार दिया.

 

 

परिवार को बच्ची के ग़ायब होने की बात तब पता चली जब रात में उनके घर में एक बिल्ली घुस गई और उसने प्लेट गिरा दी थी जिससे घर वालों की नींद खुल गई और फिर देखा की बच्ची घर में नहीं थी. जिसके बाद घर वाले उसे ढूंढने लगे. शक किन्नर पर था इस वजह से उसकी भी तलाश लोगों ने शुरू कर दी.

 

आरोपी ने किया सरेंडर 
कफ परेड पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस राजकुमार डोंगरे ने बताया की जैसे ही कन्नू को पता चला की सभी लोग उसे ढूंढ रहे हैं तो वो पुलिस स्टेशन आ गया और उनसे आत्मसमर्पण कर दिया. उसके बयान के बाद पुलिस ने सोनू को ढूंढना शुरू किया और उसे भी गिरफ़्तार कर लिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *