India V / S Sri Lanka: श्रीलंका का 7वां विकेट गिरा, चहल ने कप्तान शनाका को पवेलियन भेजा…

 

 

श्रीलंका ने भारत के खिलाफ कोलंबो में खेले जा रहे पहले वनडे में टॉस जीतकर बैटिंग का फैसला लिया। श्रीलंकाई टीम ने अब तक 7 विकेट पर 200+ रन बना लिए हैं। फिलहाल इसुरु उदाना और चमिका करुणारत्ने क्रीज पर हैं। भारत के लिए तेज गेंदबाज दीपक चाहर, स्पिनर युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव ने 2-2 विकेट लिए

चहल ने कप्तान दासुन शनाका को आउट कर श्रीलंका को 7वां झटका दिया। चहल ने शनाका को हार्दिक पंड्या के हाथों कैच कराया। वे 50 बॉल पर 39 रन बना सके।

असलंका और शनाका ने श्रीलंका की पारी संभाली और 49 रन की पार्टनरशिप की।

चहल ने अपनी पहली ही बॉल पर विकेट लिया
युजवेंद्र चहल ने मैच की अपनी पहली ही बॉल पर श्रीलंकाई टीम को पहला झटका दिया। चहल ने अविष्का फर्नांडो को मनीष पांडेय के हाथों कैच कराया। वे 35 बॉल पर 32 रन बनाकर आउट हुए। अविष्का ने मिनोद के साथ मिलकर 49 रन की ओपनिंग पार्टनरशिप की।

कुलदीप ने एक ही ओवर में 2 विकेट लिए
इसके बाद कुलदीप ने एक ही ओवर में 2 विकेट लिए। उन्होंने 17वें ओवर की पहली बॉल पर भानुका राजपक्षा को शिखर धवन के हाथों कैच कराया। भानुका 22 बॉल पर 24 रन बनाकर आउट हुए। इसके बाद चौथी बॉल पर मिनोद भानुका को पृथ्वी शॉ के हाथों कैच कराया।

मिनोद 44 बॉल पर 27 रन बनाकर आउट हुए। स्पिनर क्रुणाल पंड्या ने उप-कप्तान धनंजय डिसिल्वा को भुवनेश्वर कुमार के हाथों कैच कराया। वे 27 बॉल पर 14 रन बनाकर आउट हुए।

दीपक चाहर ने लगातार 2 ओवर में विकेट झटके
चाहर ने श्रीलंका को 5वां और छठा झटका दिया। उन्होंने 38वें ओवर में चरिथ असलंका को विकेटकीपर ईशान किशन के हाथों कैच कराया। चरिथ 65 बॉल पर 38 रन बनाकर आउट हुए। उन्होंने शनाका के साथ मिलकर 5वें विकेट के लिए 49 रन की पार्टनरशिप की। इसके बाद 40वें ओवर में वानिंदु हसारंगा को पवेलियन भेजा। वे 7 बॉल पर 8 रन बनाकर आउट हुए।

 

युजवेंद्र चहल और कुलदीप की स्पिन जोड़ी ने श्रीलंकाई टीम को परेशान किया। इन दोनों ने अब तक 3 विकेट लिए।

ईशान किशन और सूर्यकुमार का डेब्यू
ईशान किशन का आज बर्थडे है। वे बर्थडे पर वनडे में डेब्यू कर रहे हैं। इससे पहले उन्होंने मार्च में इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 में डेब्यू किया था। ईशान बर्थडे के दिन वनडे में डेब्यू करने वाले दूसरे भारतीय खिलाड़ी हैं। इससे पहले 1990 में गुरशरन सिंह ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ऐसा किया था। ओवरऑल ईशान ऐसा करने वाले 16वें खिलाड़ी हैं।

सूर्यकुमार यादव भी टीम इंडिया के लिए वनडे में डेब्यू कर रहे हैं। उन्होंने भी मार्च में ईशान के साथ ही इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 में डेब्यू किया था। अब दोनों साथ-साथ वनडे में भी डेब्यू कर रहे हैं। राहुल द्रविड़ बतौर कोच टीम इंडिया के साथ हैं।

 

सूर्यकुमार यादव और ईशान किशन को एकसाथ वनडे कैप मिली। इन दोनों ने इसी साल मार्च में एकसाथ इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 में भी डेब्यू में किया था।

दोनों टीमें
भारत : शिखर धवन (कप्तान), पृथ्वी शॉ, सूर्यकुमार यादव, मनीष पांडे, ईशान किशन (विकेटकीपर), हार्दिक पंड्या, क्रुणाल पंड्या, भुवनेश्वर कुमार, दीपक चाहर, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल।

श्रीलंका : दासुन शनाका (कप्तान), अविष्का फर्नांडो, मिनोद भानुका (विकेटकीपर), भानुका राजपक्षा, धनंजय डिसिल्वा, चरिथ असलंका, वानिंदु हसारंगा, चमिका करुणारत्ने, इसरु उदाना, दुष्मंथा चमीरा, लक्षण संदाकन।

चहल और कुलदीप 2 साल बाद एकसाथ
इस मैच में स्पिन की कमान युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव संभाल रहे हैं। दोनों करीब 2 साल बाद एकसाथ टीम इंडिया में हैं। इससे पहले पिछली बार चहल और कुलदीप ने एकसाथ 2019 वर्ल्ड कप में इंग्लैंड के खिलाफ एजबेस्टन में मैच खेला था।

टीम इंडिया 114 दिनों बाद वनडे में मैदान पर उतरी है। पिछला वनडे भारत ने मार्च में इंग्लैंड के खिलाफ खेला था। जबकि श्रीलंका की टीम ने हाल ही में इंग्लैंड के खिलाफ 3 वनडे की सीरीज खेली थी। दोनों टीमें करीब 4 साल बाद आपस में वनडे सीरीज खेल रही हैं।

टीम इंडिया सीरीज जीत की दावेदार
कम अनुभव के बावजूद भारतीय टीम श्रीलंका के खिलाफ जीत की दावेदार मानी जा रही है। इसके पीछ टीम के हालिया फॉर्म के साथ श्रीलंकाई बोर्ड और खिलाड़ियों के बीच की अनबन भी काफी हद तक जिम्मेदार है। महज 28 वनडे का अनुभव रखने वाले दासुन शनाका श्रीलंका की कप्तानी कर रहे हैं।

सीरीज जीतने पर पाकिस्तान से आगे निकलेगी टीम इंडिया

भारत ने श्रीलंका के खिलाफ अब तक 159 मैच खेले हैं। किसी भी अन्य टीम की तुलना में ज्यादा।
भारत को श्रीलंका के खिलाफ 91 वनडे मैचों में जीत मिली है। पाकिस्तान 92 जीत के साथ सबसे आगे है।
इस तरह अगर टीम इंडिया सीरीज में कम से कम 2 मैच जीत लेती है तो वह श्रीलंका के खिलाफ सबसे सफल टीम बन जाएगी।
टीम इंडिया के कप्तान 23 रन और बनाते ही वनडे क्रिकेट में अपने 6 हजार रन पूरे कर लेंगे।
यह लगातार 37वां साल होगा जब भारत और श्रीलंका की टीम कम से कम एक अंतरराष्ट्रीय मैच जरूर खेलेगी। आखिरी बार भारत ने 1983 में श्रीलंका के खिलाफ कोई भी मैच नहीं खेला था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *