NCB अधिकारी समीर वानखेड़े का आया बयान, मंत्री नवाब मलिक के आरोपों पर…

chhattisgarh.co 16 अक्टूबर 2021 : महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक लगातार नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) पर निशाना साध रहे हैं. आज उन्होंने एनसीबी से सवाल किया कि ये फ्लेचर पटेल कौन है और उसका एनसीबी से क्या संबंध है? उन्होंने  ट्वीट कर के कहा कि मैं एनसीबी के गलत काम को फिर से सबके सामने रखने वाला हूं. नवाब मलिक के इस बयान पर एनसीबी को ज़ोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े का बयान सामने आया है.

एनसीबी पर लगाए गए आरोपों पर समीर वानखेड़े ने कहा, “सत्यमेव जयते.” इसके अलावा उन्होंने आरोप लगाने वाले नवाब मलिक को शुभकामनाएं भी दीं.

नवाब मलिक ने क्या आरोप लगाए हैं?

नवाब मलिक का आरोप है कि कई मामलों में फ्लेचर पटेल नाम के ही शख्स को क्यों स्वतंत्र पंच बनाया जाता है. मलिक ने कहा उनके पास तीन मामलों के पंचनामा की कॉपी है, जिसमें उसे स्वतंत्र पंच बनाया गया है. नियमों के मुताबिक, जिस जगह छापेमारी की जाती है वहां पर आस-पास के लोगों को ही पंच बनाया जाता है. नवाब मलिक ने आरोप लगाया कि इसे देखकर ऐसा शक होता है कि क्या सारे मामले प्लानिंग करके बनाए जा रहे हैं?

मंत्री नवाब मलिक ने कहा, ‘क्या लोगों को फंसाने की साजिश रची जा रही है.  फ्लेचर पटेल ने एक महिला के साथ तस्वीर डाली है जिसको वह लेडी डॉन नाम से संबोधित कर रहा है. उस महिला के सोशल मीडिया प्रोफाइल को देखें तो पता चलता है उसका सरनेम वानखेड़े है और वह महिला एक राजनीतिक पार्टी से जुड़ी है. इसको देखने के बाद सवाल उठता है कि क्या ये लोग फिल्म इंडस्ट्री को टारगेट कर रहे हैं.’

फ्लेचर पटेल आरोपों पर क्या बोले?

नवाब मलिक द्वारा लगाये आरोपों को बेबुनियाद बताया. साथ ही नवाब मलिक पर पलटवार करते हुए सवाल किया कि उन्होंने सैनिको के लिये अभी तक क्या किया है. आज ड्रग्स मामले में जो कार्रवाई हो रही है उसपर नबाब मलिक को आपत्ती क्यों है?

फ्लेचर पटेल ने कहा कि सलमान और शाहरुख को रोल मॉडेल नहीं समीर वानखेडे को रोल मॉडल मानना चाहीये. उन्होंने कहा कि किसी भी सैनिक पर बेवजह आरोप ना लगाए. हमे अपना देश प्रेम साबित करने के लिए नवाब मलिक के सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं है. जब भी ड्रग्स के खिलाफ कार्रवाई होती है, उसपर नवाब मलिक खड़े हो जाते हैं.

कौन है फ्लेचर पटेल 

फ्लेचर पटेल फिलहाल फिटनेस ट्रेनर के रूप में काम करता है. एनसीबी की कई कार्रवाई में वो स्वतंत्र पंच के तौर पर होता है. अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती मामले में जितनी कार्रवाई हुई उसमें से बहुत सी कार्रवाई में फ्लेचर पटेल स्वतंत्र पंच है. बता दें कि फ्लेचर पटेल 20 साल से ज़्यादा समय तक भारतीय सेना में काम कर चुके हैं और उसके बाद वो रिटायर हुए.

क्योंकि फ्लेचर फौज में थे इस वजह से रिटायरमेंट के बाद वो रिटायर्ड सैनिक संस्था के मुंबई अध्यक्ष हैं. कारगिल दिवस 2020 के समय उन्होंने समीर वानखेड़े को भी बुलाया था और कहा था कि वो ड्रग्स के ख़िलाफ़ काम करेंगे. पटेल ने 1999 में कार्गिल युद्ध में एक भूमिका निभाई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *