खेतों में नहीं जलाएंगे, सड़ने नहीं देंगे, करेंगे गोठान में जाकर पैरादान

Spread the love

Chhattisgarh.Co 24 November 2022 जांजगीर-चांपा :  खरीफ फसल की कटाई और मिजाई के बाद खेत-खलिहानों में पैरा रखा हुआ है। जिसे किसानों ने न तो जलाने और न ही उसे सड़ाने का संकल्प लिया है, बल्कि इस वादे के साथ कि सुराजी गांव के तहत बनाई गई गोठानों उनके ही गांव के पशुओं को यह पहुंचाएंगे। किसानों ने स्वप्रेरित होते हुए 1065 क्विंटल पैरा गोठान में पहुंचाने का काम भी किया है, जिससे गोठानों में रहने वाली गायों को पर्याप्त पैरा मिलने लगा है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल हर मंच पर किसानों, ग्रामीणों से अपील करते आ रहे हैं कि पैरा को जलाए नहीं बल्कि गायों के लिए उसका दान करते हुए सबसे बड़ा पुण्य लाभ कमाए। उनकी मंशा के अनुरूप ही जिला कलेक्टर श्री तारन प्रकाश सिन्हा एवं जिला पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. ज्योति पटेल लगातार किसानों, ग्रामीणों को प्रेरित कर रही हैं और उनसे गोठान में ही पैरा का दान करने कह रही है। जिसका असर किसानों, ग्रामीणों में दिख रहा है। नवागढ़ विकासखण्ड की ग्राम पंचायत अकलतरी के किसान श्री अश्वनी कश्यप ने 1 टैªक्टर पैरा का दान गोठान में किया। वहीं ग्राम पंचायत गौद के किसान श्री धनीराम कहरा ने 1 ट्रैक्टर पैरा अपने खेत से गोठान में पहुंचाया। जनपद पंचायत पामगढ़़ के ग्राम पंचायत लोहरसी के किसान रेवाराम पटेल के द्वारा गोठान में जाकर पैरादान किया। इसी प्रकार बम्हनीडीह जनपद पंचायत के किसान संतोष राठौर, पुरषोत्तम राठौर, ईश्वर गुप्ता, संतोष धीवर, राजकुमार चंद्रा, जवाहर राठौर, तुलसी राठौर, टेकराम राठौर आदि किसानों ने खेत में पड़े हुए पैरा को नहीं जलाने का संकल्प लेते हुए पैरा को गायों को खाने के लिए गोठान में पहुंचा रहे हैं।

जिले की 220 गोठानों में हुआ पैरादान
जांजगीर-चांपा में किसानों के द्वारा 220 गोठानों में 1065 क्विंटल पैरादान किया गया है।
विकासखण्ड का नाम गोठानों की संख्या पैरा क्विंटल में नवागढ़ 50 230,अकलतरा 44 335 बम्हनीडीह 37 205 बलौदा 39 60पामगढ़ 50 235 योग 220 1065 क्विंटल पैरा दान किये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *